इजराइल से दोस्ती + मोदी की विदेश नीति = भारतीय सामरिक शक्ति प्रथम पायदान पर

चीन ने संयम बरतने की बात कहकर पाक के जख्मो को सहलाया

LOC के पार POK में दो स्थानों पर औऱ पाक के बालाकोट में जैश के पांचसितारा सुविधाओं से युक्त आतंकी लांच पैडों की तबाही भारतीय वायुसेना के सामरिक रणकौशल और अदम्य इच्छा शक्ति का ट्रेलर मात्र है। पुलवामा हमले के बाद सरकार पर सवाल उठाने वाला विपक्ष भी विस्मित है और पाकिस्तान के हुक्मरान भी। लेकिन भारत के मजबूत नेतृत्व, बेहतरीन रणनीति और वायुसेना के जांबाजों ने जिस स्टाइल से इस कार्यवाही को अंजाम दिया है उसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विश्वस्त अजित डोभाल, एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ और सेना को खुली छूट के साथ मोदीजी की इजराइल जैसे देशों के साथ अटूट यारी और बदली हुई विदेश नीति से विश्व मे भारत के बढ़े हुए कद का बड़ा योगदान है।
ये एक दिन में नहीं हुआ है, इस माहौल को बनाने और आवश्यक सामरिक हथियार इकट्ठा करने में मोदी जी को चार साल लग गये। इस हमले में इजराइली तकनीक का बड़ा अहम योगदान रहा है। आइये बताते हैं वो कौन कौन से हथियार हैं जिनसे इतनी सटीक कार्यवाही संभव हुई है।
अभी कुछ दिनों पहले आपने एक समाचार पढ़ा और देखा होगा कि भारत इजराइल से हारोप ड्रोन खरीदने वाला है। जी इसी हारोप ड्रोन के सहयोग से एलओसी के 60 किमी भीतर तक के आतंकी ठिकानों की सटीक जानकारी जुटाई गई। इजराइली अवॉक्स ( नेत्र) तकनीक ने पाकिस्तान के राडारों को जाम किया जिसने पाक एयरफोर्स भौंचक्क कर दिया। हमले के बाद भारत की टोह लेने आया पाकिस्तान ड्रोन भारत की बीएसएफ ने जिस तकनीक से कच्छ में मार गिराया उसमे भी इजराइली एयर डिफेंस सिस्टम ‘स्पाईडर’ का सहयोग रहा। पाक के ड्रोन को मारने के लिए भी इजराइली मिसाइल ‘डर्बी’ का इस्तेमाल किया गया। बताया जाता है कि डर्बी और पाइथन-5 लगभग 120 किलो वजन की 20 से 50 किलोमीटर तक एक्टिव लेजर और इलेक्ट्रो-मेग्नेटिक प्रोक्सिमिटी फ्यूज के साथ हमला करने में अपने किस्म की सबसे उन्नत मिसाइल हैं। जमीन से हवा में मार करने वाली ये मिसाइलें टेट्रा ट्रक से भी छोड़ी जा सकती हैं।

चीन ने पाक को संयम बरतने की सलाह दी

इस पूरी कार्यवाही से बौखलाए हुए पाकिस्तान को उसके एकमात्र सहयोगी चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने संयम बरतने की सलाह दी है वहीं भारत से आतंकवाद के विरुद्ध लड़ाई को अंतरराष्ट्रीय सहयोग के साथ जारी रखने का अनुरोध किया है।

Jat Bulletin

जाटों के लिये,जाट समाचारों के लिये अब आपके बीच आया "जाट बुलेटिन" जाटों की खबरों का संसार। जिसमें मिलेगी समाज से जुड़ी उपलब्धियां, महापुरुषों का इतिहास,समाज से जुड़ी हर घटना की खबर सीधे आपके स्मार्ट फोन पर। साथ ही "जाट बुलेटिन" में है विश्वस्तरीय जाट डाइरेक्टरी, बेटा-बेटी के लिये हजारों रिश्ते साथ ही मिलेगा पर्यटन,व्यंजन,फैशन,ज्योतिष, जाटों का इतिहास,हेल्पलाइन,सेहत के लिये हेल्थलाइन और बहुत सी जानकारियों का संग्रह अधिक जनकारियों के लिये अभी लॉगिन करें http://jatbulletin.com हमसे जुड़ने व जोड़ने के लिये वाट्सएप-9410083046,8384811104 ट्विटर- @bulletinjat यूट्यूब-jatbulletin को सब्सक्राइब कर बैल आइकन जरूर दबाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× Support