भारत-इजरायल के बीच पहली बार तेल और गैस क्षेत्र में निवेश पर समझौता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को प्रोटोकॉल तोड़कर अपने समकक्ष व मित्र इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से गले मिलकर दिल्‍ली एयरपोर्ट पर गर्मजोशी के साथ उनका स्वागत किया था. वर्ष 2003 में एरियल शेरॉन के आने के बाद यह किसी इजरायली प्रधानमंत्री का पहला भारतीय दौरा है.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को प्रोटोकॉल तोड़कर अपने समकक्ष व मित्र इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से गले मिलकर दिल्‍ली एयरपोर्ट पर गर्मजोशी के साथ उनका स्वागत किया था. इजरायल के प्रधानमंत्री का स्वागत करने के बाद दोनों नेताओं के बीच सोमवार को विविध मसलों पर बातचीत होगी. नेतन्याहू का यह दौरा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इजरायल की यात्रा करने के महज छह महीने बाद हो रहा है. इससे दोनों देशों के बीच 25 साल के कूटनीतिक संबंध को मजबूती मिलेगी. अपने देश से उड़ान भरने से पहले नेतन्याहू ने कहा था, “हम इजरायल और इस महत्वपूर्ण विश्व शक्ति (भारत) के साथ संबंधों को मजबूत कर रहे हैं. यह हमें सुरक्षा, अर्थव्यवस्था, व्यापार, पर्यटन व कई दूसरे पहलुओं में मदद करता है.” उन्होंने कहा, “यह इजरायल के लिए बहुत बड़ा आशीर्वाद है.”वर्ष 2003 में एरियल शेरॉन के आने के बाद यह किसी इजरायली प्रधानमंत्री का पहला भारतीय दौरा है.

  1.  भारत और इजरायल के बीच पहली बार तेल और गैस क्षेत्र में निवेश हो सकता है. 
  2. इजरायल रिन्यूवेबल एनर्जी में भारत कंपनियों को उन्नत तकनीक देने को लेकर समझौता हो सकता है. 
  3. दोनों देशों के बीच उड्डयन क्षेत्र को लेकर भी समझौता हो सकता है, जिससे भारत-इजरायल के बीच और करीबी रिश्ते बनेंगे.
  4. जुलाई 2017 में पीएम मोदी के इजरायल दौरे के दौरान हुए साइबर सिक्‍योरिटी समझौते को और व्‍यापाक बनाया जाएगा. 
  5. अंतरिक्ष शोध और औद्योगिक रिसर्च में को लेकर भी भारत और इजरायल के बीच दो नए समझौते होंगे. 
  6. इतना ही नहीं भारत, इजरायल में फिल्मों की शूटिंग को प्रोत्साहन देने को लेकर भी समझौता करेगा. 
  7. एक-दूसरे के निवेशकों को बढ़ावा देने और सुरक्षा देने का समझौता होगा
  8. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इजरायली पीएम नेतन्याहू आतंकवाद के खिलाफ भी संयुक्त बयान जारी कर सकते हैं. दोनों देश ही हमेशा आतंकवाद के खिलाफ हमेशा एक स्‍वर में बोलते रहे हैं. इतना ही नहीं नेतन्याहू मुंबई दौरे के दैरान वर्ष 2008 के आतंकी हमले में मारे गए लोगों की याद में आयोजित एक कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे.
  9. भारत इजरायली हथियारों का दुनिया में सबसे बड़ा खरीदार देश है. 2016 में भारत ने इजरायल से 59.9 करोड़ डॉलर के हथियार खरीदे थे. इसलिए भारत इजरायल के साथ तकनीकी और निवेश चाहेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× Support