स्वाइन फ्लू: कारण, उपचार और इस बीमारी से बचने के उपाय

स्वाइन फ्लू एक प्रकार का इंफेक्‍शन होता है जो आमतौर पर स्वाइन इन्फ्लूएंजा ए वायरस (H1N1) के कारण होता है. इस बीमारी से पीड़ित कोई व्‍यक्ति जब छींकता है तो इससे अन्‍य लोग भी पीड़ित होने लगते है.

राजस्थान में सोमवार को स्वाइन फ्लू के कम से कम 102 नए मामले सामने आए हैं. राज्य में अब स्‍वाइल फ्लू के पीड़ितों की कुल संख्‍या 1,335 तक पहुंच गई है. पिछले कुछ दिनों में स्वाइन फ्लू से होने वाली मौतों की संख्या तेजी से बढ़ी है. जनवरी में राज्य में अब तक इस बीमारी से 51 लोगों की जान जा चुकी है.

कैसे पहचानें स्वाइन फ्लू के लक्षण…

अजमेर, अलवर, दौसा और कोटा में दो-दो, नागौर, हनुमानगढ़, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, राजसमंद और जैसलमेर में एक-एक, सीकर में तीन, जोधपुर में चार, उदयपुर में पांच, चूरू में पांच, गंगानगर में सात, बीकानेर में आठ, बाड़मेर में नौ और जयपुर में 47 मामले सामने आए हैं. 

स्वाइन फ्लू एक प्रकार का इंफेक्‍शन होता है जो आमतौर पर स्वाइन इन्फ्लूएंजा ए वायरस (H1N1) के कारण होता है. इस बीमारी से पीड़ित कोई व्‍यक्ति जब छींकता है तो इससे अन्‍य लोग भी पीड़ित होने लगते है.

Dear Husbands! बहुत जरूरी है अपनी वर्किंग वाइफ का ध्यान रखना, क्योंकि…

इस बीमारी के लक्षण मौसमी बुखार के जैसे ही होते हैं, जिसे वायरल बुखार भी कहा जाता है. इसके लक्षणों में खांसी, गले में खराश और शरीर में दर्द शामिल है. यदि आप बीमार हैं या फ्लू जैसे कोई लक्षण हैं, तो घर पर रहें. स्कूल या काम पर न जाएं. 

ये टिप्स आपको स्वाइन फ्लू से सुरक्षित रखने में मदद कर सकते हैं:

  • जब भी खांसी या छींक आए तो अपना हाथ हमेशा चेहरे पर रखें या चेहरा ढंक लें. यह कीटाणुओं को आपके हाथों में स्थानांतरित नहीं करेगा और फिर आपके द्वारा स्पर्श की जाने वाली प्रत्येक वस्तु तक इंफेक्‍शन नहीं फैलेगा. 
  • लगातार हाथ धोने से स्वाइन फ्लू से बचने में मदद मिल सकती है.
  • अपने पास हैंड सैनिटाइजर रखें. जब आप किसी से हाथ मिलाएं या दरवाजे के हैंडल, कीबोर्ड या किसी की टेबल को छूएं, तो हमेशा हैंड सैनिटाइज़र का इस्तेमाल करें.
  • सुनिश्चित करें कि आप फलों और सब्जियों को पानी से धो रहे हों. 
  • भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें. अगर आप भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाते हैं, तो फ्लू मास्क पहनें.
  • स्वाइन फ्लू के सामान्य लक्षण विकसित होने पर तुरंत डॉक्टर से मिलें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

× Support